Monday, March 16, 2009

अब कहां जाऊं ?

सोचकर घर से निकला,
कि सैर दुनिया की कर आऊं
पर चौक से घर लौट चला।।

No comments: